Follow us on
Monday, June 01, 2020
BREAKING NEWS
कोविड-19: भारत सातवां सर्वाधिक प्रभावित देशकोरोना वायरस से गरीब एवं श्रमिक सबसे ज्यादा बुरी तरह प्रभावित हुए हैं - प्रधानमंत्री मोदीपाकिस्तान ने पुंछ में नियंत्रण रेखा से सटे इलाकों में गोलाबारी की, एक व्यक्ति घायलट्रम्प ने जी 7 सम्मेलन टाला, भारत समेत अन्य देशों को करना चाहते हैं शामिलखिलाड़़ियों के लिये चार्टर्ड विमान, कोविड परीक्षण जैसी योजनाएं बना रहा है यूएस ओपनकर्जमुक्त कंपनी बनने के लक्ष्य की ओर अग्रसर है रिलायंस - रिपोर्टदुनिया के 213 देशों में अबतक 62 लाख से ज्यादा लोग कोरोना संक्रमित, 3 लाख 73 हजार की मौतमशहूर संगीतकार जोड़ी साजिद-वाजिद के वाजिद खान का मुम्बई में निधन
Horoscope

साप्ताहिक राशिफल 06 अप्रैल 2020 से 12 अप्रैल 2020

April 05, 2020 07:50 AM

मेष - इस सप्ताह मेष राशि वाले आजीविका के मामलों में दूर-दराज के क्षेत्रो में यात्रा में जाने की तैयारी में रहेगे। हालांकि सूर्य का व्यय भावगत गोचर कुछ मामलों में शरीर में पीड़ा तथा कामों में तनाव देने वाला रहेगा। वहीं शुक्र का स्वराशिगत यानी द्वितीय भाव में गोचर आपके लिये मंगलकारी रहेगा। जिससे आप अपने घर परिवार के साथ तालमेल बनाने में लगे हुये रहेंगे। इस दौरान आपको भूमि एवं भवन के कामों में अच्छा मिलेगा। वहीं राहू का तृतीय भावगत गोचर आपको पराक्रमी बनाने वाला तथा कामों का साधक बना हुआ रहेगा। जिससे आप अपने कार्य एवं व्यवसाय में आगे बढ़ते हुये रहेंगे। मंगल एवं शनि तथा गुरू का कर्म भावगत गोचर आपके लिये बहुत खास अवसरों को गोचरवश देने का मन बना चुके है। जिससे आपको उत्पादन एवं विक्रय के क्षेत्रों में अच्छा लाभ होगा। हाँ जरूरत है आपको इसके लिये आगे बढ़ने की

वृषभ - इस सप्ताह वृष राशि वाले धन एवं आय के मामलों में बहुत खुश किस्मत रहेंगे। क्योंकि श्री सूर्य आय भावगत गोचर करेंगे जिससे आपको इस सप्ताह अधिक मात्रा में लाभ होगा। और आप अपने आर्थिक लक्ष्य के करीब बने हुये रहेंगे। अर्थात् धन के मामलों में यह सप्ताह वांछित कामयाबी देने वाला रहेगा। वहीं श्री शुक्र का स्वगृही गोचर भी आपके तन एवं मन को सुख एवं शांति देने वाला बना रहेगा। जिससे आप सुख संतोष की तरफ प्रवाह बनाये हुये रहेंगे। हालांकि सम्पत्ति भावगत राहू का गोचर आपके लिये कलह एवं परेशानियों को बढ़ाने वाला बना हुआ रहेगा। अतः किसी सम्पत्ति एवं परिवार के मामलों में आपको बहुत ही सावधानी के साथ चलने की जरूरत बनी हुई रहेगी। वहीं धर्म भावगत मंगल एवं शनि की स्थिति आपके लिये अच्छी बनी हुई रहेगी। जिससे आपको कैरियर एवं व्यवसाय के क्षेत्रों में अच्छी प्रगति की स्थिति बनी हुई रहेगी।

मिथुन - इस सप्ताह मिथुन राशि वाले अपनी योजनाओं को अमलीजामा पहनाने के लिये पहले से अधिक सक्रिय बने हुये रहेंगे। क्योंकि श्री सूर्य आपके कर्मभाव गत गोचर करते हुये रहेंगे। जिससे आप अपने काम को पूरा करने में दिलचस्प बने हुये रहेंगे। बहुत सम्भव है कि आपको किसी पद पोस्ट के लिये चुन लिया जायेगा। यानी इस सप्ताह कार्य एवं कैरियर के क्षेत्रों में अच्छी उन्नति के अवसर बनते हुये प्रतीत हो रहे है। अतः अपने प्रयासों को तीव्रता से जारी रखे। यदि रोजगार के क्षेत्र में पहली बार जा रहे है, तो प्रयास करे, सफल रहेंगे। वैसे लग्न भावगत राहू का गोचर भी आपके लिये नुकसान देह बना हुआ रहेगा। इसी प्रकार अष्टम भाव गत मंगल एवं शनि का गोचर भी आपके लिये कुछ मुश्किले देने वाला रहेगा। यानी इस सप्ताह ग्रहीय गोचर के कारण आपको कुछ मामलों में कठिनाइयां आती रहेगी। अतः धैर्य बनाकर चलने की जरूरत रहेगी।

कर्क - इस सप्ताह कर्क राशि वालों का सुख एवं सौभाग्य बढ़ा हुआ रहेगा। जिससे आप अपने कामों को और तीव्रता से करने में लगे हुये रहेंगे। क्योंकि सूर्य का गोचर धर्मभावगत बना हुआ रहेगा। जिससे आप उत्पादन एवं विक्रय के कामों को करने में रूचि लेते हुये रहेंगे। और आपका फायदा भी बना हुआ रहेगा। धर्म, सैन्य, सुरक्षा एवं साहस के कामों में आपको इस सप्ताह अच्छी सफलता के संकेत ग्रहीय गोचर के कारण प्राप्त होते रहेगे। शुक्र का आय भावगत गोचर भी आपके लिये अत्यंत शुभप्रद एवं मंगल दायक बना हुआ रहेगा। जिससे आप अपने कामों को और सढ़ी ढंग से करने में सक्षम रहेंगे और धन लाभ भी अच्छा बना हुआ रहेगा। इसी प्रकार केतू भी षष्ठ भावगत गोचर करेंगे। जिससे आप अपने बाहर के कामों में ख्याति अर्जित करेंगे। और किसी बड़े कार्मिक समझौते पर आप राजी होगे। मंगल एवं शनि का गोचर दारा भावगत होने से आपको कुछ परेशानियों से गुजरना पड़ेगा।

सिंह - इस सप्ताह सिंह राशि वाले अपने ज्ञान एवं विज्ञान को और अच्छा बनाने के लिये संघर्षरत बने हुये रहेंगे। इस हेतु आपको अधिक ध्यान देकर विषयों की तैयारी करने की जरूतर बनी हुई रहेगी। हालांकि पुत्र एवं पुत्री के बारे में आपकी चिंतायें बढ़ती हुई रहेगी। अतः सूझबूझ कर ही कोई कदम उठायें। हालांकि षष्ठभावगत मंगल आपके शत्रुओं को पराजित करने वाले रहेंगे। जिससे आपके अन्दर आत्मविश्वास बना हुआ रहेगा। वहीं शनि भी आपके लिये हितकारी बने हुये रहेगे। जिससे न्याय, संवाद, सूचना, कानूनी कार्य एवं विक्रय तथा दलाली आदि के कामों में भी आपको लाभ मिलता हुआ रहेगा। गुरू का रोग भावगत गोचर आपको धर्म एवं परोपकार के कामों से भटका सकता है। हालांकि आप अपने किसी खास रिश्तेदार के निमंत्रण में जाने के लिये तैयार रहेंगे। इस दौरान परस्पर संवादों का क्रम शुरू हो सकता है।

कन्या - इस सप्ताह कन्या राशि वालों को मंगल एवं शनि के पंचम भावगत गोचर करने और गुरू का संयोग होने से विद्या एवं संतान के मामलों में परेशानी की स्थिति बनी हुई रहेगी। यानी इन मामलों में सफलता के लिये आप पहले से अधिक सक्रिय बने हुये रहेंगे। क्योंकि एक तरफ ऐसी बातों आपके मन को परेशान करने वाली रहेगी। वहीं दूसरी तरफ गुरू का गोचर आपके लिये सुखप्रद बना हुआ रहेगा। इसी प्रकार केतू सुख भाव में पहुंचकर आपके सुख -सुविधाओं में व्यवधान उत्पन्न कर सकते है। ऐसे में आप अपने किसी निकट परिजनों से लड़ एवं झगड़ सकते है। अतः आप ऐसी किसी भी क्रिया-कलाप से बचे जो कि  आपको इन मामलों में परेशान करने वाली हो। हालांकि सूर्य का गोचर भी आपके दारा सुख में तना तनी देने वाला रहेगा। किन्तु शुक्र का गोचर आपके पे्रम संबंधों एवं धर्म के कामों को पुष्ट करने वाला रहेगा।

तुला - इस सप्ताह तुला राशि वाले अपनी सुख-सुविधाओं को उच्च करने तथा समय के अनुसार कामों को करने में जोर देते हुये रहेंगे। बहुत सम्भव है। इस दौरान किसी अचल सम्पत्ति की खरीद को अंतिम रूप देने में व्यस्त रहेंगे। क्योंकि शनि एवं मंगल का गोचर जहा आपको कुछ बातों में भ्रम एवं परेशान करने वाला रहेगा। किन्तु गुरू की स्थिति आपके लिये मान-प्रतिष्ठा एवं लाभ के अवसरों तक पहुंचाने वाली रहेगी। जिससे आपको धन संबंधी लाभ होगा। और राजनीति एवं प्रबंधन आदि जिससे आप जुड़े हुये है उन क्षेत्रों में आपको अच्छे लाभ की उम्मीदें बन रही है। खेल एवं चिकित्सा तथा न्याय के मामले में सूर्य की स्थिति भी आपके लिये अच्छी बन रही है। जिससे आप अपने विरोधियों एवं शत्रुओं को पराजित करने में सक्षम बने हुये रहेंगे। हालांकि शुक्र का अष्टम भावगत गोचर आपके लिये संबंधों में तनाव को देने वाला रहेगा।

वृश्चिक - इस सप्ताह वृश्चिक राशि वाले मंगल एवं शनि के गोचर से अधिक लाभवांन्ति रहेगे। और उनके पराक्रम एवं बल में बढ़त दर्ज होगी। उनका आत्मविश्वास बढ़ा हुआ रहेगा। लेकिन कुछ मामलो में बातों के अस्पष्ट होने से गुरू का गोचर आपको क्रोधित करने वाला रहेगा। जिससे आप अपने लक्ष्य से भकट सकते है। यानी आपको यहा अपने धैर्य एवं विवेक का प्रयोग करना चाहिये अन्यथा हानि की स्थिति हो सकती है। पंचम भावगत सूय्र्र का गोचर आपको संतान के बारे में चाहे उनकी पढ़ाई या फिर  होई अन्य उनके कल्याण की बाते हो आपको चिंता देता हुआ रहेगा। हालांकि शुक्र का दारा भावगत गोचर आपके वैवाहिक संबंधों में परस्पर मनमुटाव एवं खिन्नता को दे सकता है। अतः कोई बात सोचमझकर ही बोले अन्यथा हानि की स्थिति उठानी पड़ सकती है। अतः तुनक मिजाज से बचे और बेकार की बातों मे ध्यान ने देकर शांत रहने की पूरी कोशिश मे रहें। अन्यथा हानि की स्थिति हो सकती है।

धनु - इस सप्ताह धनु राशि वाले को अपने सेहत के प्रति लापरवाही से बचने की जरूरत बनी हुई रहेगी। क्योंकि लग्नगत पाप ग्रहीय केतू का गोचर अस्थिर विचारों को देने वाला तथा कई तरह की चिंताओं को दे सकता है। अतः सूझबूझ से ही कोई कदम बढ़ाये अन्यथा हानि की स्थिति हो सकती है। सेहत के किसी मामलें में खेलवाड़ ने करें। इसी प्रकार सम्पत्ति एवं जमीन के संबंधों में पाप एवं शुभ ग्रही संबंध होने से आपको जल्दबाजी में कोई निर्णय नहीं करना चाहिये। अन्यथा हानि के भागी हो सकते है। हालांकि इस सप्ताह आपको अपने घर एवं बाहर के कामों को बहुत ही सोच विचार कर करने की जरूरत बनी हुई रहेगी। हालांकि आपके पद एवं गरिमा में बढ़त रहेगी। और पूंजी निवेश एवं विदेश के मामलों में आपको लाभ मिलता हुआ रहेगा। किन्तु अपने सभी दस्तावेजो को कानूनी रूप से पुष्ट कर लें। जिससे किसी भी हानि से आप बच पायेंगे।

मकर - इस सप्ताह मकर राशि वाले अपने सेहत को और पुष्ट करने के लिये कुछ उपयोगी व्यायाम की श्रृंखला को दिनचर्या में शामिल करेंगे। किन्तु घर परिवार मे परस्पर सहयोग को बनाने के लिये इन्हें चुनौती का सामना करना पडे़गा। क्योंकि लग्न भावगत मंगल आपको उत्तेजित करने वाला रहेगा। वहीं शनि आपको कुछ पीड़ाओं एवं दर्द को देने वाला रहेगा। हालांकि गुरू का गोचर आपको ज्ञान एवं पुष्टि दोनो को ही देने वाला बना हुआ रहेगा। जिससे आप अपने कामों को पूरा करने मे सक्षम रहेंगे। वही मीन राशि राशिगत सूर्य का गोचर आपके बल एवं पराक्रम को बढ़ाने वाला रहेगा। जिससे आप वांछित लक्ष्य के समीप बने हुये रहेंगे। इस सप्ताह आप किसी धर्म एवं वैवाहिक कामों के आयोजनों को पूरा करने में  दिलचस्पी दिखाने वाले रहेंगे। तकनीक, चिकित्सा एवं किसी शोध पूर्ण कार्य में अच्छी प्रगति भी इस सप्ताह आप अर्जित करेंगे।

कुम्भ - इस सप्ताह कुम्भ राशि वाले अपने उद्योग एवं कारोबार को बढ़ाने के लिये दूर-दराज के क्षेत्रों में जाने के लिये तैयार रहेंगे। हालांकि कुछ कामों को पूरा करने के लिए आपको अधिक समय एवं धन व्यय करने की स्थिति बनी हुई रहेगी। क्योंकि व्यय भावगत मंगल एवं शनि के साथ गुरू का संबंध बन रहा है। जिससे आप इस सप्ताह अपने किसी निजी रिश्तेदार के यहाँ आमंत्रण में जाने के लिये तैयार रहेंगे। हालांकि सूर्य का सम्पत्ति भाव से संबंध आपके लिये अनुकूल अवसरों को देने वाला बना हुआ रहेगा। जिससे आप प्रसन्न रहेंगे। कुल मिलाकर यह सप्ताह आपको कई मामलों में मिलेजुले परिणाम देने वाला रहेगा। संबंधित व्यापार को बढ़ाने के लिये आपको कुछ मानवीय श्रम की जरूरत भी बनी हुई रहेगी। पे्रम संबंधों में साथी की निकटता हेतु और वक्त देने की जरूरत रहेगी। जिससे मधुर संवादों का क्रम शुरू हो सकता है।

मीन - इस सप्ताह मीन राशि वाले सुखद स्वास्थ्य की तरफ तेजी से आगे बढ़त हुये रहेंगे। क्योंकि मीन राशिगत सूर्य का गोचर आपको अपने खान-पान के प्रति सचेत करता रहेगा। जिससे तन की तंदुस्ती बनी हुई रहेगी। और आप अपने आत्म विश्वास एवं साहस के कारण कई कामों को करने मे सक्षम रहेंगे। इस सप्ताह बुध धन भाव में गोचर करते हुये आपके धन एवं सम्मान को बढ़ाने वाले रहेंगे। जिससे आपको किसी अचल सम्पत्ति के विक्रय एवं निर्माण में लाभ रहेगा। पिता की आज्ञा से कुछ पारिवार में मांगलिक कामों को करने के लिये तत्पर रहेगे। हालांकि शुक्र का तृतीय भाव गत स्वराशि मे गोचर करेंगे। जिससे आपको कुछ विपरीत परिणाम भी प्राप्त होगे। चाहे वह परिवार के स्तर पर हो या फिर धर्म एवं समाज के स्तर पर हो या फिर उत्पादन एवं विक्रय के काम हो आपको परेशानी हो सकती है। अतः सूझबूझ से काम लें। अन्यथा हानि की स्थिति हो सकती है।

Have something to say? Post your comment