Follow us on
Wednesday, October 21, 2020
Horoscope

साप्ताहिक राशिफल 20 अप्रैल 2020 से 26 अप्रैल 2020

April 19, 2020 08:27 AM

मेष - इस सप्ताह श्रीसूर्य उच्च के होकर आपको कारोबारी जीवन की कुछ खास यात्राओं के लिये प्रेरित करते हुये रहेगे। जिससे कार्मिक एवं व्यवसायिक जीवन मे अच्छी प्रगति बनी हुई रहेगी। वैसे सूर्य आपके तन को स्वस्थ रखने और आत्मबल देने का भी काम करेंगे। किन्तु वैवाहिक जीवन में अचानक गुस्से से बचने की जरूरत रहेगी। 24 अपै्रल से बुध का योग आपके विवेक को और प्रखर करने वाला रहेगा। जिससे व्यापारिक लाभ में इजाफा रहेगा। इसी प्रकार राहू आपको ख्याति एवं पराक्रम बढ़ाने वाले रहेंगे। साथी में ही धन लाभ के अवसर बनेंगे। परिवार के साथ समांजस्य स्थापित रहेगा। किन्तु भाग्य भाव के केतु आपको नकारात्मक विचारों को देने वाले रहेंगे। इसी प्रकार कर्म भावगत उच्च होकर मंगल का गोचर आपको तकनीक, चिकित्सा, प्रबंधन में बढ़त देगा। स्वग्रही शनि की स्थिति भी आपको उग्र कर सकती है। जिससे विरोधी बढ़ सकते है। किन्तु गुरू सामान्य फल देते हुये रहेंगे।

वृषभ - इस सप्ताह स्वग्रही शुक्र का गोचर आपको सुख एवं शांति की सौगात देने वाले रहेगा। आप के प्रतिद्वन्दी और धुर विरोधियों को अपमानित होना पडे़गा। शुक्र का गोचर आपके कारोबार को तरक्की का नया नजरिया देने वाला रहेगा। किन्तु धन भावगत राहू का गोचर आपके आर्थिक व्यय की स्थिति को और बढ़ाने वाला रहेगा। जिससे भौतिक सुख के साधन एवं भूमि अध्ययन, परिवार स्वादिष्ट व्यंजनों में अधिक धन व्यय होने की स्थिति रहेगी। इसी प्रकार भाग्यभावगत मंगल कुछ विवाद एवं भय को बढ़ाने वाला रहेगा। शनि का गोचर भाग्य भावगत होने से आपको कष्टों से दो चार होना पड़ सकता है। किन्तु गुरू आपके लिये शुभ एवं मंगल देने की स्थिति को बनाने वाले रहेंगे। जिससे आपको व्यापारिक एवं आर्थिक सफलता रहेगी। आपके सुख एवं सम्मान में वृद्धि रहेगी।

मिथुन - इस सप्ताह मिथुन राशि में राहू का गोचर रहेगा। जिससे आपको तन के कष्ट एवं मानसिक पीड़ाओं की स्थिति होने के आसार रहेंगे। आप अपने कार्मिक एवं व्यापारिक जीवन में और बढ़त बनाने के लिये पूरी मुस्तैदी से तत्पर रहेगे। हालांकि राहू परेशानियों का क्रम देने वाला रहेगा। इसी प्रकार दारा भावगत केतू का गोचर भी वैवाहिक जीवन तथा आंतरिक पीड़ाओं को बढ़ाने वाला रहेगा। अतः सूझबूझ को बनाकर चलने की जरूरत रहेगी। यह समझिये कि आप किसी जंग को जीतने के करीब है। पर धैर्य को बनाये रखें। अष्टम भावगत उच्च का मंगल आपको तकनीक एवं व्यापार निवेश में कुछ परेशानियों के बाद फायदा देने वाला रहेगा। इसी प्रकार शनि आपको न्यायिक एवं कार्मिक जीवन में बढ़त देने के अवसरों को भी देगा। किन्तु अष्टम भावगत गुरू का गोचर भय एवं पीड़ाओं को देने वाला रहेगा।

कर्क - इस सप्ताह कर्क राशि वालों के रोग भावगत केतू का गोचर रहेगा। जो आपको कारोबारी जीवन में लाभ देने वाला रहेगा। यदि आप कार्य एवं व्यापार के सिलसिले में देश एवं विदेश में जहाँ भी रह रहे है। वह आपके लिये फायदेमंद रहेगा। क्योंकि केतू का गोचर आपको धन लाभ एवं सुख सम्मान को देने वाला रहेगा। इसी प्रकार बात करे आपके वैवाहिक संबंध एवं अन्य क्षेत्रों की तो दारा भावगत मंगल का गोचर आपको कई तरह की चुनौतियों को देने वाला रहेगा। जिससे आपको जहाँ कारोबारी जीवन में गुस्से आते रहेगे। वहीं जीवन साथी के साथ सहयोग की कमी को क्रोध में तब्दील कर सकते है। जिससे मन की शांति भंग होगी। यात्रा एवं विदेश के मामलों में अधिक धन व्यय होने की आशंका बनी हुई रहेगी। इसी प्रकार शनि भी आपके दारा भाव में गोचर करते हुये आलस्य एवं प्रमाद को बढ़ाने वाले रहेंगे। हालांकि वहाँ पहुंचकर किसी भी विकट स्थिति को संभालने के लिये तत्पर रहेंगे। जिससे आप सामान्य तौर पर अपने कामों को करते हुये रहेंगे।

सिंह - इस सप्ताह सिंह राशि वाले के सुत भावगत केतू का गोचर रहेगा। जिससे आप अपने कामों को और गति देने से विचलित होते रहेंगे। कई तरह की भ्रम एवं शंकाये भी आपको परेशान करने वाले रहेंगे। संतान पक्ष को लेकर आपको कुछ परेशानी के दौर से गुजना रहेगा। यदि कोई निजी संबंध है, तो उनमें झगड़े की स्थिति हो सकती है। किन्तु रोगभाव में मंगल का गोचर आपको सुख एवं धन लाभ देने वाला रहेगा। जिससे किसी तकनीक, मशीन एवं चिकित्सा के क्षेत्रों में आपको ख्याति रहेगी। वहीं शनि का गोचर कमीशन एवं न्याय तथा कारागार के कामों को सफलता देने वाला रहेगा। जिससे आप प्रसन्न रहेंगे। किन्तु गुरू का गोचर अधिक धन व्यय एवं रोग तथा कमर एवं जंगों के दर्दो को देने वाला रहेगां। अतः उचित उपचारों को लेना जरूरी रहेगा।

कन्या - इस सप्ताह कन्या राशि वालों के मातृ भाव में केतु गोचर करते हुये। भौतिक सुख एवं शांति को कमजोर करने वाला रहेगा। अतःसूझबूझ से चलना आपके लिये हितकारी रहेगा। कार्य एवं व्यापार को बढ़ाने के लिये आपको और मेहनत के साथ धैर्य एवं विवेक का सहारा लेना रहेगा। सेहत के लिये यह सप्ताह कुछ पीड़ादयक हो सकता है। अतः उचित उपचार की तरफ बढ़ते रहेगे। यदि बात करें आपके पे्रम संबंधों की तो यहाँ भी गोचर वश मंगल एवं शनि संचरण करते हुये रहेंगे। जिससे आपके निजी संबंधों में साथी का रूख आपके लिये कुछ विपरीत सा बना हुआ रहेगा। संतान पक्ष आपकी बातों को अधिक महत्व नहीं देगे। किन्तु गुरू का गोचर वहीं आपके लिये शुभप्रद स्थिति को संजोने लिये तत्पर बना हुआ रहेगा। जिससे आप विवेक का प्रयोग करते हुये किसी समस्या से निकलने में सफल रहेगे। प्रयासों को तेज करें तो आवश्य ही लाभ रहेगा।

तुला - इस सप्ताह आपके पराक्रम भाव में केतु का गोचर रहेगा। जो आपके रहन-सहन को उच्च करने वाला तथा घर परिवार में मेल मिलाप को देने वाला रहेगा। बहुत हद तक आप अपनी जिम्मेदारियों को निभाने में लगे हुये रहेगे। हालांकि उत्पादन एवं विक्रय के क्षेत्रों में अधिक मेहनत की जरूरत बनी हुई रहेगी। आपकी प्रतिष्ठा एवं पहचान और अच्छी रहेगी। जिससे आप उत्साहित होते रहेंगे। किन्तु सुख भाव का शनि एवं मंगल का गोचर आपको कई बार उत्तेजित करता हुआ रहेगा। जिससे किसी लक्ष्य से पीछे रह सकते है। इसी प्रकार गुरू की स्थिति भी आपको कुछ परेशान करने वाली रहेगी। जिससे आजीविका के संबंधों में पीड़ाओं की स्थिति उभरती हुई रहेगी। सेहत के लिये भी यह समय अधिक उपयोगी नहीं रहेगा। जिससे कुछ पीड़ाओं की स्थिति हो सकती है। यदि नौकरी करने वाले है। तो आपकी जिम्मेदारियों एवं भाग-दौड़ में इजाफे की स्थिति रहेगी। जिससे आप परेशान रहेंगे।

वृश्चिक - इस सप्ताह़ वृश्चिक राशि के धन भावगत केतू का गोचर आपके कार्य एवं व्यवसाय के क्षेत्रों में गुणवत्ता को बनाये रखने की चुनौती देता रहेगा। यानी आपको अपनी व्यापारिक एवं कार्मिक साख को बनाने के लिये और अधिक प्रयासों को करने की जरूरत बनी हुई रहेगी। हालांकि घर परिवारक के साथ किसी जरूरी बातों में चर्चायें शुरू हो सकती है। किन्तु अनचानक के विवादों एवं गुस्से से बचने की जरूरत बनी हुई रहेगी। सेहत के लिये यह सप्ताह मध्यम परिणाम देने वाला रहेगा। बहुत सम्भव है। कि किसी प्रवास एवं कानूनी मामले को लेकर आप परेशान होते रहेंगे। हालांकि आपके पराक्रम भावगत श्री मंगल एवं शनि का गोचर आपके सुख एवं मंगल कल्याण को निर्मित करने में लगे हुये रहेंगे। जिससे आपको कार्मिक एवं व्यवसायिक जीवन में प्रगति हासिल होती रहेगी। किन्तु गुरू का गोचर आर्थिक एवं व्यापारिक कठिनाइयों को देने वाला रहेगा।

धनु - इस सप्ताह धनु राशि में केतू का गोचर आपके सेहत के लिये रोग कारक एवं परेशानियों को देने वाला रहेगा। तथा आपके आत्मविश्वास एवं संयम को भी खराब कर सकता है। अतः सेहत के प्रति ऐसे सभी लाभकारी उपयायों से जुड़े रहे हैं, जो आपके लिये अत्यंत लाभकारी एवं उपयोगी है। उन्हें न छोड़े। अन्यथा पाप ग्रह आपकी मति को भ्रमित कर सकता है। इसी प्रकार धन भाव का मंगल एवं शनि का गोचर नेत्र, कंधे, गर्दन, आदि की पीड़ाओं को दे सकते है। हालांकि इस पीड़ा को हटाने या फिर उत्पन्न होने से रोकने के लिये गुरू ग्रह ने संकेत दिये है। यदि आपके जमांग में गुरू की स्थिति अच्छी रहेगी। तो आपको ऐसे समय में सेहत में पीड़ाओं से राहत रहेगी। कारोबारी जीवन में भी गुरू बढ़त के संकेत दे दिये है। जिससे आप प्रसन्न रहेगे। हालांकि भवन निर्माण एवं विक्रय भी आपके लिये फायदेमंद रहेगा।

मकर - इस सप्ताह मकर राशि में स्वग्रही शनि की स्थिति आपको कारोबारी जीवन में कामों को पूरा करने की चुनौती देने वाला रहेगा। इसी प्रकार उच्च के मंगल ने भी तकनीक एवं चिकत्सा के क्षेत्रों में कठिनायों के संकेत दे दिये है। अतः संबंधित सुरक्षा एवं तकनीक के कामों को सावधानी के साथ करने की जरूरत रहेगी। क्योंकि गोचर के कारण यहा मौजूद गुरू भी आपके लिये अशुभ कारक बने हुये रहेगे। जिससे आपको पारिवारिक एवं व्यवसायिक जीवन में कठिनाइयां रहेगी। पत्नी एवं बच्चों को लेकर भी परेशानी होने की स्थिति हो सकती है। अतः सूझबूझ से चलने की जरूरत बनी हुई रहेगी। न्यायाल एवं विवादों में आपको अधिक सगज होने की जरूरत रहेगी। धन निवेश एवं विदेश के मामलों में आपको अपने स्तर पर सावधानी रखने की जरूरत रहेगी।

कुम्भ - इस सप्ताह कुम्भ राशि से पराक्रम भाव में सूर्य का गोचर आपको ख्याति देने वाला रहेगा। जिससे आप अपने व्यापारिक लक्ष्यों को पाने की क्षमताओं से युक्त रहेंगे। घर एवं परिवार में परस्पर सहयोग एवं तालमेल की स्थिति रहेगी। जिससे आप अपने कामों को और तेजी के साथ करने में लगे हुये रहेंगे। किसी धार्मिक कामों के आयोजनों को पूरा करने के लिये तैयार हो सकते हैं। क्योंकि सुखभाव में शुक्र का गोचर आपको धन एवं धान्य से पूरित करने वाला रहेगा। तथा भौतिक सुख के साधनो को बढ़ाने में भी आप सफल होते रहेंगे। किन्तु पंचम भावगत राहू का गोचर अध्ययन एवं पे्रम संबंधों में कड़ी चुनौती देने वाला रहेगा। संतान पक्ष से झगड़े की नौबत आ सकती है। यदि कोई प्रेम संबंध है। तो वहा भी राहू तनाव को देने वाला रहेगा। किन्तु ठीक इसके विपरीत केतू आपके मान एवं सम्मान को बचाने वाला तथा धन एवं कारोबारी जीवन में लाभ देने वाला रहेगा।

मीन - इस सप्ताह मीन राशि के धन भावगत श्री सूर्य का गोचर रहेगा। जो आपको धन एवं सम्पत्ति के मामलों में विवादों को देने वाले रहेंगे। जिससे आपको कानूनी पहलुओं का सहारा लेना पड़ सकता है। हालांकि सप्ताह के अंतिम चरण में धनभाव गत बुध का गोचर आपके पक्ष मे लाभकारी स्थिति को बनाने वाला रहेगा। जिससे आपको धन एवं सम्पत्ति का लाभ रहेगा। कारोबारी जीवन की प्रगति अर्जित करने की स्थिति बनी हुई रहेगी। इसी प्रकार पराक्रम भाव में शुक्र का गोचर भी आपको उपयुक्त वातावरण को देने वाला तथा पारिवारिक जीवन में खुशियों को देने वाला बना हुआ रहेगा। किन्तु सुख भाव में राहू का गोचर कई तरह के कष्ट एवं पीड़ाओं को देने वाला रहेगा। जिससे आपका आत्मविश्वास कमजोर हो सकता है। अतः ध्यान देते रहेंगे। तो अच्छा रहेगा। चाहे वह कार्मिक पहलू हो या फिर अन्य कोई।

Have something to say? Post your comment