Follow us on
Tuesday, August 11, 2020
Horoscope

साप्ताहिक राशिफल 11 मई 2020 से 17 मई 2020

May 10, 2020 09:21 AM

मेष - इस सप्ताह मेष राशि के धन भावगत त्रिग्रही संयोग गोचरीय गति के कारण निर्मित हो रहा है। जिससे आप अपने कामों को और अच्छी प्रगति देने में व्यस्त रहेंगे। चाहे वह प्रवास एवं विदेश के मामलों हो या फिर उद्योगों में पुनः जान फूँकने की बातें हो, आपको अनूठा लाभ मिलता हुआ रहेगा। घर परिवार की एकता को और मजबूत करने पर जोर रहेगा। हालांकि गोचरीय सूर्य ने धन हानि और भय उत्पन्न होने के संकेत दिये है। अतः संबंधित व्यापार एवं परिवार तथा अपने सेहत के लिये बिल्कुल भी लापरवाह न रहें। किन्तु पराक्रम भावगत राहू ने पुनः आपको सम्मान एवं धन दिलाने के लिये कमर कस रखी है। जिससे आपके साथ घर परिवार एवं समाज का सहयोग रहेगा। और कामों को करने मे सक्षम बने हुये रहेंगे। किन्तु कर्मभावगत गुरू एवं शनि का संयोग आपकी कठिनाइयों को इतनी आसानी से नहीं जाने देगा। अतः आप अपने सैन्य, सुरक्षा, तकनीक एवं व्यापार में अतिरिक्त सुरक्षा एवं सावधानी को शामिल करके चलें। तो लाभ रहेगा।

वृषभ - इस सप्ताह इस राशि में त्रिग्रही गोचरीय संयोग हो रहा है। जिससे आपको अपने कार्य एवं व्यापार को गति एवं प्रगति देने के लिये कड़ी मशक्कत करने की जरूरत बनी हुई रहेगी। क्योंकि सूर्य ने पद एवं प्रतिष्ठा को बढ़ाने के बावत आपको कड़े परिश्रम को सूझबूझ के साथ जारी रखने के आदेश फरमाया है। किन्तु बुध ने बंधन एवं भय तथा पीड़ाओं के होने की बात को संकेकित किया है। हालांकि शक्र ने आपके लिये सुख एवं सुविधाओं को अर्जित करने तथा अपने प्रतिद्वन्द्वियों को पीछे छोड़ देने की कला दे रखी है। जिससे शत्रु पराजित होते रहेगे। किन्तु धनभाव गत राहू का गोचर धन के अधिक व्यय और रोग एवं पीड़ाओं की तरफ आपको धकेल सकते है। अतः अपने स्तर पर सावधानी बनाये रखने की जरूरत बनी हुई रहेगी।

मिथुन - इस सप्ताह मिथुन राशि में राहू का गोचर रहेगा। जो भय एवं शंकाओं के बीज में आपको कार्य करने यानी आजीविका के संचालन में लगाये हुये रहेगा। जिससे आपका मनोबल कभी कमजोर और कभी एकाएक मजबूत स्थिति में पहुंच जायेगा। हालांकि घर परिवार एवं पत्नी को लेकर भी आप कुछ आशंकित रहेंगे। अतः संबधित पहलुओं में ध्यान देने की जरूरत बनी हुई रहेगी। क्योंकि दारा भावगत केतू ने पहले से ही कष्ट देने की स्थिति को बया किया है। अतः व्यापार एवं परिवार के मामलों में आपको सतर्क होकर चलने की जरूरत बनी हुई रहेगी। इसी प्रकार अष्टमभाव गत शनि एवं गुरू का गोचरीय क्रम आपको कष्टप्रद बना हुआ रहेगा। अतः अपनी हिम्मत को कम न होने दें। किन्तु भाग्यभाव के मंगल भी उनता शुभ फल नहीं दे पायेगे। ध्यान दे यह आपकी कुण्ड़ली में ग्रहों के बलाबल अनुसार ही फल घटित होगा।

कर्क - इस सप्ताह कर्क राशि वालों के षष्ठ भावगत केतू का गोचर रहेगा। जो आपकी आपकी कारोबारी शक्ति को उन्नत करने वाला रहेगा। छोटे एवं बड़े जिस भी स्तर के व्यापारी है। उसी स्तर से आपको लाभ रहेगा। यदि आप कुछ खास लोगों एवं प्रवास के मामलों में सम्पर्क साधना चाह रहे है। तो फायदा रहेगा। नौकरी सामान्य रूप से बनी रहेगी। सेहत के लिये उतना हानिप्रद नहीं रहेगा। किन्तु धर्म एंव परोपकार के कामों में कुछ रेशानियों की स्थितियां हो सकती है। हालांकि दारा भावगत शनि की स्थिति आपको वैवाहिक संबंधों एंव कारोबारी जीवन में तनाव तथा पीड़ाओं को देने वाली रहेगी। जिससे आपका मन परेशान हो सकता है। किन्तु गुरू का गोचर आपके लिये जानदार बना हुआ रहेगा। यानी वह इन ग्रहों की अशुभता को कम करने के लिये आपके साथ खड़े रहेंगे। जिससे आपका शुभ एवं मंगल होता रहेगा।

सिंह - इस सप्ताह सिंह राशि वाले के पुत्र भावगत केतू का गोचर रहेगा। जो आपको फिल्म, कला, संगीत, न्याय, राजनैतिक एवं सामाजिक जीवन में उन्नति के अवसरों को कमजोर करने वाला रहेगा। यदि आप अध्ययनरत है। या फिर अध्यापक हैं, तो आपकी परेशानी बढ़ी हुई रहेगी। धन लाभ बढ़ाने एवं व्यापार में मुनाफा कमाने की स्थिति भी यहाँ कमजोर बनी हुई रहेगी। अतः अपने धैर्य एवं साहस का सही समय में प्रयोग करने से न चूके। हालंकि रोगभाव गत गुरू का गोचर भी आपको धन एवं किसी खास रिश्तेदार की चिंता देने वाला रहेगा। जिससे आप परेशान रहेंगे। किन्तु शनि का गोचर आपके लिये धन एवं सम्मान को देने वाला शुभप्रद बना हुआ रहेगा। जिससे आपके रूके हुये काम बनते रहेंगे। और जीवन की गाड़ी चलती हुई रहेगी।

कन्या  - इस सप्ताह कन्या राशि वालों के सुख भावगत केतु का गोचर रहेगा। जिससे आपको काम-काजी जीवन में कठिनाइयों का दौर जारी रहेगा। निवेश एवं प्रवास के क्षेत्रों में भी आपको लाभ मिलने के असार बने हुये रहें। हालांकि नौकरी के मामलों में अचानक ही परेशानी से गुजरना पड़ सकता है। इसी प्रकार सुत भावगत शनि का गोचर भी आपकी मुश्किलों को बढ़ाने वाला रहेगा। जिससे संतान एवं शिक्षा तथा फिल्म, संगीत एवं प्रबधन तथा तकनीक के कामों मे आपको परेशानी हो सकती है। किन्तु इन सभी समस्याओं के बाद गुरू आपके लिये संजीवनी की तरह रहेंगे। जिससे आपके कई रूके हुये काम पूरे होते रहेंगे। और किसी कठिनाई एवं परेशानी से भी बाहर निकलने का आत्मविश्वास बना हुआ रहेगा। यानी ग्रहीय गोचर के शुभाशुभ फल को समझते हुये संबंधित क्षेत्रों में सतर्क रहें।

तुला - इस सप्ताह आपके पराक्रम भाव में केतु का गोचर रहेगा। जिससे आप किसी संस्था के साथ परस्पर व्यापारिक लाभ के सौदों पर हस्ताक्षर करने को तैयार रहेंगे। आपको अपने विवेक का अधिक प्रयोग करने की जरूरत बनी हुई रहेगी। धन निवेश एवं प्रवास के कामों में पहले से अधिक प्रगति की स्थिति बनती हुई रहेगी। किन्तु सेहत के लिये कुछ परेशानियों का दौर आ सकता है। जिससे आपको कुछ जरूरी उपचारों को लेना होगा। सुख भावगत शनि एवं गुरू का गोचर फिल्म, कला, प्रबंधन, सुरक्षा एवं प्रशासन के कामों में कई तरह की चुनौतियों से भरा हुआ रहेगा। परिवार के किसी वरिष्ठ सदस्य के स्वास्थ्य की चिंताये हो सकती है। किसी वांछित परिणाम को पाने लिये कड़ी मेहनत की जरूरत बनी हुई रहेगी। पे्रम संबंधों में साथी के साथ मनमुटाव की स्थिति रहेगी।

वृश्चिक - इस सप्ताह़ वृश्चिक राशि के धन भावगत केतू का गोचर रहेगा। जिससे अपने परिजनों से मिलने और उन्हें सहयोग देने के लिये तैयार रहेंगे। यदि आप पहुंचे हुये कारोबारी या फिर व्यवसायी है। तो आपको कई स्तर पर अपने संबंधित लक्ष्यों हेतु कुछ संस्था के संबंधित लोगों से सम्पर्क बनाने की जरूरत बनी हुई रहेगी। जिससे आप परेशान रहेंगे। हालांकि इस सप्ताह आपका धन व्यय होने के आसार रहेंगे। जिसे आप निजी समस्या मान कर अपने मन का भार न बनायें। इसी प्रकार आपके पराक्रम भाव में गुरू एवं शनि का गोचर बना हुआ रहेगा। जिससे आपको इस सप्ताह परिवार एवं बाहरी यात्राओं में सुख एवं दुख दोनो ही तरह की स्थितियां रहेगी। जिससे आपको सूझबूझ कर चलने की जरूरत बनी हुई रहेगी। यहीं सूझबूझ आपको आदर्श व्यक्ति के रूप में स्थापित करने वाली रहेगी। ध्यान दें। जिससे आप अपने परेशानियों से भी बच पायेगे।

धनु - इस सप्ताह धनु राशि में केतू का गोचर रहेगा। जिससे आप अपने शारीरिक शक्ति को बढ़ाने एवं अनुकूल आचार-विचार एवं खान-पान को अपनाने में लगे हुये रहेंगे। क्योंकि पाप ग्रही गोचर आपको कई बार शरीर में पीड़ा और में भ्रम तथा अशान्ति की सिथति को उत्पन्न कर सकता है। जिससे आप परेशान रहेंगे। हालांकि धन भाव में शनि का गोचर निवेश एवं विदेश तथा प्रवास के मामलों में कष्टप्रद बने हुये रहेगे। यदि आप किसी न्यायालय के काम से तालुल्क रखते है। तो आपको ऐसे कामों में बढ़त रहेगी। यदि आप किसी बीमा कम्पनी या कमीशन में काम करने वाले है। तो लाभ की स्थिति रहेगी। हालांकि सेहत में पीड़ओं से इंकार नहीं किया जा सकता है। धैर्य एवं विवेक को बनाये रखना अति आवश्यक रहेगा। किन्तु यहा मौजूद गुरू आपके लिये सकारात्मक वातावरण को तैयार करने वाले रहेंगे। जिससे संबंधित क्षेत्रों में आपको लाभ अर्जित होता रहेगा।

मकर - इस सप्ताह मकर राशि में स्वग्रही शनि की स्थिति रहेगी। जो आपको अपने नियमित व्यायाम एवं शारीरिक संयम को बनाने के संकेत देता हुआ रहेगा। यानी काम के साथ ही स्वास्थ्य पर भी अतिरिक्त ध्यान देने की जरूरत बनी हुई रहेगी। क्योंकि लग्नगत गुरू का गोचर भी आपके लिये उतना सकारात्मक ऊर्जा को नहीं देने वाला रहेगा। जिससे आपको उपचारों की दरकार बनी हुई रहेगी। बात करे आपके वैवाहिक जीवन की तो यहाँ भी खींचतान जारी रहने के आसार बन हुये रहेगे। यथा सम्भव सावधानी अपनाना आपके लिये फायदेमंद बना हुआ रहेगा। इसी प्रकार धन भावगत मंगल का गोचर तकनीक एंव चिकित्सा और उत्पादन के क्षेत्रों में चुनौती देने वाला बना हुआ रहेगा। जिससे आप कुछ परेशान रहेगे। यानी सेहत में आंखों के दर्द एवं पीड़ा हो सकती है। किन्तु पंचम भावगत सूर्य बुध एवं शुक्र का गोचर आपके लिये शुभप्रद एवं लाभकारी बना हुआ रहेगा।

कुम्भ - इस सप्ताह कुम्भ राशि से पराक्रम एवं सुख भाव में सूर्य का गोचर। आपको मिलेजुले परिणामों को देने वाला रहेगा। जिससे आप अपनी कार्मिक एवं व्यावसायिक योजनाओं को संचालित करने में ध्यान देते हुये रहेंगे। हालांकि सूर्य से आपको इस सप्ताह मिलेजुले परिणाम प्राप्त होते रहेंगे। किन्तु सुखभाव गत शुक्र का गोचर आपके लिये धन एवं सम्मान की स्थिति को बनाने वाले रहेंगे। जिससे आप अपने व्यवसाय में बढ़त बनाने तथा लाभ अर्जित करने में कामयाब रहेगे। हालांकि शुक्र आपकी सेहत के लिये भी सहायक बने हुये रहेंगे। इस सप्ताह घर परिवार में कभी मिलाप तो कभी प्रलाप का क्रम हो सकता है। अतः ध्यान देते रहेंगे। तो अच्छा रहेगा। पे्रम संबंधों में साथी की कुछ बातों को आप सिरे से खारिच कर सकते हैं। किन्तु सुत भावगत राहू भी आपके मान एवं प्रतिष्ठा को बिगाड़ने वाला रहेगा। जिससे आप परेशन रहेंगे।

मीन - इस सप्ताह मीन राशि के धन एवं पराक्रम भावगत सूर्य का गोचर रहेगा। जिससे आप अपने कामों की प्रगति को सुनिश्चित करने में लगे हुय रहेंगे। सरकारी एवं निजी क्षेत्रों के किसी प्रतिष्ठित व्यक्ति के साथ आपका सम्पर्क बना हुआ रहेगा। प्रबंधन, उत्पादन, विक्रय एवं माल की ढुलाई, फिल्म, संचार के क्षेत्रों में आपको इस सप्ताह अच्छी प्रगति की सम्भावनायें बन रही है। किन्तु धन व्यय की स्थिति भी बनी हुई रहेगी। जिससे आप कुछ परेशान रहेंगे। सेहत में भी आंख, कंधे आदि के दर्द परेशान करने वाले रहेगे। हालांकि पराक्रम भाव में शुक्र की गोचरीय स्थिति आपके धन एवं सम्मान को बढ़ाने वाली रहेगी। जिससे आप खुश रहेंगे। परिवार के साथ अछा तालमेल स्थापित रहेगा। कुछ परोपकार के कामों को करने में लगे हुये रहेगे। किन्तु सुखभाव मे बुध एवं राहू का गोचर भी मिश्रित परिणाम देने वाला रहेगा।

Have something to say? Post your comment