Follow us on
Sunday, June 07, 2020
India

मौसम वैज्ञानिक ने कहा- भीषण तबाही मचा सकता है अम्फान तूफान

May 19, 2020 10:45 AM

नई दिल्ली - कोरोना वायरस का कहर थमता हुआ नजर नहीं आ रहा है। आए दिन कोरोना संक्रमितों की संख्या में लगातार इजाफा देखने को मिल रहा है। इसी कोरोना संकट के बीच देश एक और संकट का सामना कर सकता है। भारतीय मौसम विज्ञान विभाग के महानिदेशक एम महापात्र ने बताया कि चक्रवात अम्फान बहुत अधिक खतरनाक है। यह तुफान बड़े स्तर पर तबाही मचा सकता है।

उन्होंने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि 'अम्फान' महाचक्रवात में तब्दील हो गया है और इसके 20 मई को पश्चिम बंगाल के दीघा द्वीपसमूह और बांग्लादेश के हतिया द्वीपसमूह के बीच टकराने की आशंका है। महापात्र ने कहा कि पश्चिम बंगाल के तटीय जिलों में 19 और 20 मई को मूसलाधार बारिश होगी जिनमें पूर्वी मिदनापुर, दक्षिण और उत्तर 24 परगना, हावड़ा, हुगली और कोलकाता शामिल हैं। चक्रवात का असर जगतसिंहपुर, केंद्रपाड़ा, भद्रक और बालासोर सहित उत्तरी ओडिशा के तटीय जिलों में भी पड़ने की संभावना है।

पीएम नरेंद्र मोदी ने अम्फान तूफान को लेकर आज शाम एक महत्वपूर्ण बैठक की है। जिसमें तूफान के आने से पहले की तैयारियों का जायजा लिया। इस बैठक में गृह मंत्री अमित शाह ने भी हिस्सा लिया। इस बैठक में एनडीआरएफ के डीजी ने तूफान को लेकर रेस्पॉन्स प्लान की भी जानकारी दी है। उन्होंने बताया कि तूफान के इलाके में 25 एनडीआरएफ की टीमें तैनात है जो लोगों को मदद करेगी। बता दें आज मौसम विभाग ने अलर्ट जारी किया है अगले 24 घंटे में अम्फान देश के कई राज्यों में भारी तबाही मचा सकता है। जिसके बाद पीएम मोदी की यह महत्वपूर्ण बैठक हुई है।

तूफान को लेकर मौसम वैज्ञानिक एएम भट्ट का कहना है कि अंडमान सागर से सक्रिय कल शाम तूफान 18 से 20 मई तक बहुत तेज गति के साथ छत्तीसगढ़ से गुजरते हुए पश्चिम बंगाल और ओडिशा के बीच टकराएगा जिसके कारण उसका पहला असर 36 दक्षिणी छत्तीसगढ़ में देखा जाएगा जबकि इस तूफान का असर 22 मई तक पूरे छत्तीसगढ़ में देखा जा सकता है।

Have something to say? Post your comment
 
More India News
जैव-विविधता को संरक्षित रखने का संकल्प दोहराएं - प्रधानमंत्री बारिश के लिए अगले सप्ताह से अनुकूल हालात होने की संभावना - मौसम विभाग संक्रमण के मामले में इटली से ऊपर पहुंचा भारत कोविड-19: देश में 2,26,770 लोग संक्रमित, मृतकों की संख्या 6,348 हुई कोविड-19: देश में एक दिन में सबसे ज्यादा 9,304 नए मामले, मृतकों की संख्या 6,075 पहुंची राहुल से बोले राजीव बजाज: कठोर लॉकडाउन से जीडीपी औंधे मुंह गिर गई और अर्थव्यवस्था तबाह हुई श्रमिकों को पूरा पारिश्रमिक देने में असमर्थ नियोक्ता न्यायालय में अपनी बैलेंस शीट पेश करें - केन्द्र कोरोना संकट के बीच 8 जून से खुलेंगे धार्मिक स्थल, सरकार ने जारी की गाइडलाइन गर्भवती हथनी की मौत मामले में केरल की पिनराई विजयन सरकार ने दिए जांच के आदेश निसर्ग तूफान से महाराष्ट्र में तीन लोगों की मौत, नुकसान से बचा गुजरात