Follow us on
Sunday, June 07, 2020
Chandigarh

ट्राईसिटी और अंतरराज्यीय बस सेवा जल्द होगी शुरू, प्रशासन ने मांगी सहमति

May 20, 2020 06:28 AM

चंडीगढ़ - यूटी के प्रशासक और पंजाब के राज्यपाल वीपी सिंह बदनौर ने मंगलवार को पंजाब राज भवन में प्रशासन के अधिकारियों की बैठक ली और लॉकडाउन 4 में दी गई रियायतों को लेकर समीक्षा की। उन्होंने शहर के निवासियों से अपील की कि वे सुविधा का उपयोग करते हुए उचित सोशल व फिजिकल डिस्टेंसिंग और स्वच्छता बनाए रखें। प्रशासक ने निवासियों से अपील की कि वे दी गई छूट का दुरुपयोग न करें।

उन्होंने पुलिस महानिदेशक को यह सुनिश्चित करने का भी निर्देश दिया कि शाम 7  से सुबह 7 तक लॉकडाउन का सख्ती से पालन किया जाए। बैठक में प्रशासक के सलाहकार मनोज परीडा ने बताया कि ट्राईसिटी बस सेवा जल्द शुरू होगी। अंतरराज्यीय बस सेवा के संबंध में राज्यों से आवश्यक सहमति मांगी गई है, ताकि अंतरराज्यीय बस सेवा फिर से शुरू की जा सके। उन्होंने कहा कि सीटीयू की बसें 50 फीसदी  क्षमता के साथ चलेंगी और हर ट्रिप के बाद बसों को सेनेटाइज़ किया जाएगा। बसों में चढ़ने से पहले यात्रियों को की थर्मल स्क्रीनिंग की व्यवस्था होगी।

प्रशासक ने मार्केट संगठनों, व्यापारियों और दुकान मालिकों से अपील की कि वे यह सुनिश्चित करें कि बाजारों को साफ रखा जाए और ग्राहक उचित सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखें और मास्क पहनें। बाजारों में हाथ थोने के लिए भी उचित इंतजाम हों। बैठक में प्रशासक को बताया गया कि 18 विशेष ट्रेनों और बसों से 24,867 प्रवासी मजदूरों और फंसे व्यक्तियों को उनके गृह राज्यों में बेजा गया है। प्रशासक ने अधिकारियों को सलाह दी कि वे यह सुनिश्चित करें कि आवश्यक मेडिकल स्क्रीनिंग कड़ाई से की जाए और ट्रेनों में चढ़ते समय यात्रियों को भोजन और पानी उपलब्ध कराया जाए।

प्रशासक ने स्वास्थ्य अधिकारियों को बापू धाम कॉलोनी और सेक्टर 30-बी जैसे क्षेत्रों पर ध्यान केंद्रित करने का निर्देश दिया, ताकि इन क्षेत्रों में आगे संक्रमण को कम किया जा सके।

प्रशासक ने नगर निगम कमिश्नर को यह सुनिश्चित करने के निर्देश दिए कि गर्मी के मौसम में निवासियों को पर्याप्त स्वच्छ पेयजल उपलब्ध कराने के लिए आवश्यक कदम उठाए । इस मौके पर सेक्टर 32 जीएमसीएच के निदेशक प्रिंसिपल बीएस चवण ने बताया किया कि भारत सरकार की नीतियों के कड़ाई से क्रियान्वयन के बाद 10 दिनों के अस्पताल में भर्ती होने के बाद 38 मरीजों को आज छुट्टी दे दी गई है। केके यादव, आयुक्त, नगर निगम ने कहा कि नगर निगम ने कार्यालय परिसर को साफ-सुथरा और कीटाणुरहित रखने के लिए सभी कार्यालयों के हाउसकीपिंग स्टाफ के लिए प्रशिक्षण की व्यवस्था की है।

डीसी मनदीप सिंह बराड़ ने बताया कि बापू धाम कॉलोनी के सभी निवासियों को सूखा राशन प्रदान किया गया है। स्थानीय स्कूलों में बापू धाम कॉलोनी निवासियों को विशेष देखभाल और पोषण प्रदान करने के लिए बेड स्थापित किए गए हैं, जो वहां शिफ्ट होने के इच्छुक हैं। शहर के विभिन्न हिस्सों में निराश्रित और जरूरतमंद व्यक्तियों के बीच 74,617 पके हुए भोजन के पैकेट वितरित किए गए हैं।

Have something to say? Post your comment
 
More Chandigarh News
चंडीगढ़ में आए सात नए मामले, बापूधाम कालोनी के चार बच्चे हुए संक्रमित चंडीगढ़ में 8 जून से खुलेंगे शॉपिंग मॉल्स, होटल और धार्मिक स्थल, एसओपी जारी प्रशासन ने दी राहत, ढाई महीने के 25 फीसदी फिक्स्ड इलेक्ट्रिसिटी चार्जेस किए माफ बापूधाम कालोनी की 80 साल की महिला हुई संक्रमित, 8 मरीज हुए डिस्चार्ज विश्व पर्यावरण दिवस पर विशेष : चंडीगढ़ में हर साल लग रहे लाखों पौधों ने बढ़ाई शहर की हरियाली मां से मिलने मिलने दिल्ली से आया युवक हुआ संक्रमित चंडीगढ़ के प्राइवेट स्कूल नहीं कर पाएंगे इस साल फीस में बढ़ोतरी कोरोना वायरस के संक्रमण से चंडीगढ़ में पांचवीं मौत, सेक्टर-30 की बुजुर्ग महिला की मौत अब सुबह 10 से रात 8 बजे तक खुलेंगे बाजार, कम्युनिटी सेंटर्स भी हो सकेंगे बुक बच्चे को जन्म देने के बाद बापूधाम कालोनी की युवती हुई संक्रमित