Follow us on
Monday, July 06, 2020
World

चीन ने चार और मीडिया संस्थानों के खिलाफ कार्रवाई को लेकर अमेरिका को दी चेतावनी

June 25, 2020 07:28 AM

बीजिंग - अमेरिका द्वारा चीन के चार और मीडिया संस्थानों को ‘‘विदेशी मिशनों’’ की सूची में डाले जाने के बाद चीन ने भी बदले की कार्रवाई करने की चेतावनी दी है। अमेरिका ने चीन की सरकार और सत्तारूढ़ कम्युनिस्ट पार्टी से संबंध होने के कारण चीन के चार और संस्थानों को ‘विदेशी मिशन’’ की सूची में डाला है।

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता झाओ लिजियान ने ट्रंप प्रशासन के इस कदम को अमेरिका द्वारा चीनी मीडिया के खुल्लमखुल्ला राजनीतिक दमन का एक अन्य उदाहरण बताया है। उन्होंने कहा कि इससे अमेरिका पर उनकी रिपोर्टिंग में हस्तक्षेप होगा और यह प्रेस की आजादी की अमेरिका की प्रतिबद्धता के साथ विश्वासघात है।

झाओ ने कहा, ‘‘हम अमेरिका से शीत युद्ध की मानसिकता और वैचारिक पूर्वाग्रह को खत्म करने का अनुरोध करते हैं और तत्काल इस गलत प्रथा को रोकने तथा इसे सही करने के लिए कहते हैं जिससे किसी का भला नहीं होगा। वरना चीन आवश्यक वैध जवाब देगा।’’

इससे पहले फरवरी में अमेरिका ने चीन के पांच मीडिया संस्थानों को विदेशी मिशन की श्रेणी में रखा था। इस तरह चीन के कुल नौ मीडिया संस्थानों को विदेशी मिशन की श्रेणी में रखा गया है। अमेरिका ने सोमवार को ‘चाइना सेंट्रल टेलीविजन’, ‘चाइना न्यूज सर्विस’, ‘द पीपुल्स डेली’ और ‘ग्लोबल टाइम्स’ को विदेशी मिशन की श्रेणी में डाला है।

Have something to say? Post your comment
 
More World News
भारत से प्यार करता है अमेरिका - ट्रम्प डब्ल्यूएचओ का कोरोना वायरस के पहले दौर पर ध्यान केंद्रित करने का अनुरोध प्रधानमंत्री राजपक्षे के साथ वार्ता के बाद श्रीलंका के बंदरगाह कर्मियों ने प्रदर्शन समाप्त किया वैज्ञानिकों ने कोविड-19 के प्रसार का अनुमान लगाने के लिये मौसम पूर्वानुमान तकनीक का उपयोग किया अमेरिका में एक दिन में कोविड-19 के एक लाख मामले भी आ सकते हैं सामने - फाउची म्यामां में सैन्य कार्रवाई के भय से हजारों लोगों का पलायन पाकिस्तान स्टॉक एक्सचेंज पर हमला, आतंकवादियों समेत नौ की मौत ब्रिटेन में भारतीय मूल के लोगों में बढ़ रहे मौत के मामले, स्थानीय स्तर पर लॉकडाउन की तैयारी नवाज शरीफ के खिलाफ भ्रष्टाचार का एक और मामला दायर दुबई के गुरुद्वारे ने भारतीयों की स्वदेश वापसी के लिए पहला चार्टर्ड विमान पंजाब भेजा