Follow us on
Monday, July 06, 2020
World

म्यामां में सैन्य कार्रवाई के भय से हजारों लोगों का पलायन

July 01, 2020 06:29 AM

यंगून - पश्चिमी म्यामां के उस इलाके से हजारों लोग पिछले हफ्ते से अपने गांवों को छोड़कर भाग रहे हैं जहां सरकार और नस्ली विद्रोहियों के बीच संघर्ष जारी है। अधिकारियों द्वारा इलाके को खाली करने के आदेश के बाद लोगों का यह पलायन शुरू हुआ है।

रखाइन प्रांत की सरकार ने पिछले मंगलवार को एक आदेश जारी कर राथेडॉन्ग उपनगर के गांव प्रशासकों को वहां के निवासियों को घर से दूर रहने के लिए बताने का निर्देश दिया था क्योंकि सेना विद्रोहियों के खिलाफ “सफाया अभियान” चलाने की योजना बना रही है।

“सफाया अभियान’” चरमपंथ के खिलाफ म्यामां सेना की कार्रवाई को परिभाषित करने वाला शब्द है। रखाइन प्रांत के सुरक्षा एवं सीमा मामलों के मंत्री द्वारा पिछले शुक्रवार को आदेश रद्द किए जाने के बाद भी पिछले पूरे हफ्ते तक 40 से अधिक गांवों से पलायन जारी रहा।

राथेडॉन्ग उपनगर के लिए संसद के ऊपरी सदन के सदस्य खिन माउंग लट ने सोमवार को कहा, “जब से यह आदेश जारी किया गया, 10,000 से ज्यादा लोग अभियान वाले इलाके के अपने गांव छोड़कर चले गए।”

सरकार और अराकान आर्मी के बीच लगभग एक साल से भी ज्यादा वक्त से बीच-बीच में संघर्ष होता रहता है। अराकान आर्मी इलाके के रखाइन नस्ली समूह के सदस्यों का प्रतिनिधित्व करने वाला अच्छी तरह से प्रशिक्षित और हथियारों से लैस गुरिल्ला बल है।

रखाइन में 2017 में सेना ने मुस्लिम रोहिंग्या अल्पसंख्यकों के चरमपंथियों के खिलाफ अभियान चलाया था लेकिन आलोचकों का आरोप था कि यह कार्रवाई देश से रोहिंग्या को बाहर करने के लिए चलाया गया आतंक पैदा करने का अभियान था।

एक अनुमान के तहत 7,40,000 रोहिंग्या पड़ोसी देश बांग्लादेश पलायन कर गए हैं,जहां से शरणार्थी शिविरों में रह रहे हैं।

Have something to say? Post your comment
 
More World News
भारत से प्यार करता है अमेरिका - ट्रम्प डब्ल्यूएचओ का कोरोना वायरस के पहले दौर पर ध्यान केंद्रित करने का अनुरोध प्रधानमंत्री राजपक्षे के साथ वार्ता के बाद श्रीलंका के बंदरगाह कर्मियों ने प्रदर्शन समाप्त किया वैज्ञानिकों ने कोविड-19 के प्रसार का अनुमान लगाने के लिये मौसम पूर्वानुमान तकनीक का उपयोग किया अमेरिका में एक दिन में कोविड-19 के एक लाख मामले भी आ सकते हैं सामने - फाउची पाकिस्तान स्टॉक एक्सचेंज पर हमला, आतंकवादियों समेत नौ की मौत ब्रिटेन में भारतीय मूल के लोगों में बढ़ रहे मौत के मामले, स्थानीय स्तर पर लॉकडाउन की तैयारी नवाज शरीफ के खिलाफ भ्रष्टाचार का एक और मामला दायर दुबई के गुरुद्वारे ने भारतीयों की स्वदेश वापसी के लिए पहला चार्टर्ड विमान पंजाब भेजा आव्रजन पर ट्रम्प की प्रतिबंधात्मक नीति अमेरिकी अर्थव्यवस्था के लिए हानिकारक होगी - यूएसआईबीसी