Follow us on
Wednesday, August 12, 2020
Business

डीजल 15 पैसे और महंगा, 82 रुपये प्रति लीटर के पास पहुंचे दाम

July 27, 2020 06:37 AM

नयी दिल्ली (भाषा) - राष्ट्रीय राजधानी में डीजल के दाम 82 रुपये प्रति लीटर के पास पहुंच गए हैं। रविवार को लगातार दूसरे दिन डीजल कीमतों में बढ़ोतरी हुई। पेट्रोलियम विपणन कंपनियों की मूल्य अधिसूचना के अनुसार, डीजल के दाम 15 पैसे प्रति लीटर बढ़ाए गए हैं। इससे दिल्ली में डीजल 81.94 रुपये प्रति लीटर पर पहुंच गया है। स्थानीय बिक्रीकर या मूल्यवर्धित कर (वैट) की वजह से विभिन्न राज्यों में ईंधन कीमतों में अंतर होता है।

डीजल कीमतों में रविवार को लगातार दूसरे दिन बढ़ोतरी हुई। शनिवार को भी इस वाहन ईंधन की कीमतों में 15 पैसे प्रति लीटर की बढ़ोतरी की गई थी। रविवार को पेट्रोल कीमतों में कोई बढ़ोतरी नहीं हुई। दिल्ली में पेट्रोल अब डीजल से सस्ता यानी 80.43 रुपये प्रति लीटर बिक रहा है।

पेट्रोल कीमतों में आखिरी बार 29 जून को बदलाव हुआ था। पेट्रोलियम कंपनियों ने सात जून से ईंधन कीमतों में बढ़ोतरी का सिलसिला एक बार फिर शुरू किया था। तब से 29 जून तक पेट्रोल के दाम 21 बार बढ़ाए गए हैं। इस दौरान पेट्रोल कीमतों में 9.17 रुपये प्रति लीटर की बढ़ोतरी हुई है।

वहीं दूसरी ओर डीजल कीमतों में बढ़ोतरी का सिलसिला जुलाई में भी जारी है। सात जून से डीजल कीमतों में 12.55 रुपये प्रति लीटर की वृद्धि हुई है। मुंबई में पेट्रोल का दाम 87.19 रुपये प्रति लीटर है। 29 जून से पेट्रोल कीमतों में बढ़ोतरी नहीं हुई है।

वहीं मुंबई में डीजल 80.11 रुपये प्रति लीटर बिक रहा है। सात जून से पहले 82 दिन तक पेट्रोलियम विपणन कंपनियों ने पेट्रोल और डीजल की कीमतों में संशोधन नहीं किया था।

Have something to say? Post your comment
 
More Business News
जीडीपी में कृषि की हिस्सेदारी बढ़ाने में कृषि अवसंरचना कोष अहम होगा - किसान निकाय मोदी ने अंडमान निकोबार तक ब्रॉडबैंड सेवायें पहुचाने वाली पहली समुद्री केबल परियोजना का उद्घाटन किया सेंसेक्स की शीर्ष 10 में छह कंपनियों का बाजार पूंजीकरण 74,240 करोड़ रुपये बढ़ा गिरीश चंद्र मुर्मू ने नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक का पदभार संभाला सीरम इंस्टीट्यूट भारत, अन्य देशों के लिये कोविड-19 टीके की दस करोड़ खुराक का उत्पादन करेगा आरबीआई ने स्वर्णाभूषणों के बदले कर्ज का अनुपात बढ़ाकर 90 प्रतिशत किया ओयो ने भारत, दक्षिण एशिया के कर्मचारियों की वेतन कटौती वापस ली जुलाई में निर्यात लगभग पिछले साल के स्तर पर पहुंचा - गोयल कैलाश मानसरोवर मार्ग पर 85 प्रतिशत काम पूरा - गडकरी डिस्कॉम पर बिजली उत्पादक कंपनियों का बकाया 47 प्रतिशत बढ़कर 1.33 लाख करोड़ रुपये हुआ