Follow us on
Friday, August 14, 2020
Feature

बच्चों को खिलाएं ओट्स-सोया मिल्क-नट्स, तेजी से होगा विकास

July 28, 2020 06:48 AM

बढ़ती उम्र के साथ शारीरिक विकास के दौर में बच्चों को एक्सट्रा न्यूट्रिएंट्स और हेल्थ गार्ड्स की जरूरत होती है। इसके लिए ओट्स, सोया मिल्क और नट्स बहुत उपयोगी हो सकते हैं। आप भी जानिए इनके फायदों के बारे में।

कतर बच्चों को स्नैक्स पसंद होता है। जबकि मां-बाप चाहते हैं कि वे स्नैक्स न खाएं बल्कि ऐसी स्वास्थ्यवर्धक चीजें खाएं ताकि इनकी हेल्थ बेहतर रहे और आवश्यक शारीरिक विकास में किसी किस्म की बाधा न आए। सवाल है ऐसी कौन-सी चीजें हैं, जिनके खाने से बच्चों की सेहत सही रहती है, उनका शारीरिक विकास बेहतर रहता है और अगर इस दौरान वे स्नैक्स भी खा लें तो कोई फर्क नहीं पड़ता। हम आपको बताते हैं ऐसी कौन-सी चीजें हैं, जो बढ़ते हुए बच्चों के शारीरिक और मानसिक विकास के लिए अच्छी होती हैं।

सोया मिल्क :दूध को कंप्लीट डाइट माना जाता है। लेकिन अब प्राकृतिक दूध में कई किस्म की समस्याएं हैं। एक तो जानवरों का खानपान प्राकृतिक नहीं रहा। आमतौर पर शहरों में पलने वाले जानवरों को कारखानों में बने पशु आहार खिलाए जाते हैं, जिससे वे ज्यादा से ज्यादा दूध दें। लेकिन यह दूध सेहत के लिए अच्छा नहीं होता, इसमें कई तरह की समस्याएं हो सकती हैं।

दूसरी बात आमतौर पर शहरों में पॉश्चुराइज्ड दूध मिलता है, जो कई दिनों तक खराब न होने के लिए कई किस्म की रासायनिक मिलावटों से तैयार होता है, भले ये बहुत कम और तकनीकी रूप से शरीर को हानि न पहुंचाने वाले हों। लेकिन कम से कम बच्चों के शारीरिक विकास में इनकी इतनी अच्छी भूमिका नहीं होती, जितनी अच्छी भूमिका सोया मिल्क अदा कर सकता है। जी हां, सोया में प्रोटीन और कैल्शियम जैसे पौष्टिक तत्व भरपूर मात्रा में मौजूद होते हैं, जो बॉडी को मजबूत बनाने में अहम भूमिका निभाते हैं।

ओट्स: वैसे बच्चों हों या किशोर अगर उनसे आप जई यानी ओट्स खाने के लिए पूछें तो वह जल्दी तैयार नहीं होंगे। लेकिन बहुत जल्दी हजम हो जाने वाला जई बहुत अच्छा नाश्ता है। विशेषकर उन युवाओं के लिए जिन्हें मसल्स बनाने का शौक हो।

जई में मसल्स को मजबूत बनाने वाले प्रोटीन भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं, साथ ही इसमें फाइबर और दूसरे पोषक तत्व भी खूब होते हैं। अगर जई के साथ आप अखरोट, एक कप दूध या एक पका केला या ताजे बेर का कॉम्बीनेशन लेते हैं तो यह स्थिति सोने पे सुहागा है। जई एक पावर हाउस की तरह है, जो दिन भर आपके शरीर के ऊर्जा स्तर को बेहतर रखता है।

नट्स:नट्स सभी के लिए बहुत स्वास्थ्यवर्धक होते हैं। सभी नट्स में भरपूर मात्रा में प्रोटीन पाया जाता है। इसलिए बच्चों के लिए नट्स बहुत ही जरूरी होते हैं। इनका सेवन कई तरह से किया जा सकता है सीधे यानी बिना कुछ जोड़े घटाए आप इन्हें खा सकते हैं।

अगर मुंह को ठीक न लगे तो हल्का-सा तल लें या किसी भी तरह की डिश बनाकर खाएं इसके फायदों से वंचित नहीं होंगे। याद रखें कच्चे गिरीदार फल फैट्स खनिज और एंटीऑक्सीडेंट्स के सबसे बढ़िया स्रोत हैं। इनको नियमित लेने से शरीर को जरूरी पोषक तत्व तो मिलते ही हैं, दिमाग भी तीव्र रहता है और याददाश्त भी बेहतर होती है।

Have something to say? Post your comment