Follow us on
Friday, August 14, 2020
Politics

तीन पूर्व कानून मंत्रियों ने कलराज मिश्र से कहा: सत्र नहीं बुलाने से संवैधानिक संकट पैदा होगा

July 28, 2020 06:56 AM

नयी दिल्ली (भाषा) - संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (संप्रग) सरकार में कानून मंत्री रहे कांग्रेस के तीन वरिष्ठ नेताओं कपिल सिब्बल, सलमान खुर्शीद और अश्वनी कुमार ने सोमवार को राजस्थान के राज्यपाल कलराज मिश्र को पत्र लिखकर आग्रह किया कि वह अशोक गहलोत मंत्रिमंडल की अनुशंसा पर विधानसभा सत्र बुलाएं क्योंकि ऐसा नहीं करने से संवैधानिक संकट पैदा होगा।

तीनों ने इस सत्र में यह भी कहा कि राज्यपाल की तरफ से सत्र बुलाने में विलंब करने से राजस्थान में एक ऐसा संवैधानिक गतिरोध पैदा हो गया है जिसे पहले ही टाला जा सकता था। उन्होंने 2016 के ‘नबाम रेबिया मामले’ और 1974 के ‘शमशेर सिंह बनाम भारत सरकार’ मामले में उच्चतम न्यायालय के निर्णय का हवाला देते हुए कहा, ‘‘ राज्यपाल मंत्रिपरिषद की सलाह पर विधानसभा सत्र बुलाने को बाध्य हैं।’’

तीनों पूर्व कानून मंत्रियों ने कहा कि विधानसभा सत्र बुलाने की स्थापित संवैधानिक स्थिति से इतर जाने से संवैधानिक संकट पैदा होगा। गौरतलब है कि राजस्थान के राज्यपाल कलराज मिश्र ने विधानसभा का विशेष सत्र बुलाने का राज्य मंत्रिमंडल का संशोधित प्रस्ताव कुछ 'सवालों' के साथ सरकार को वापस भेज दिया है।

राजभवन सूत्रों ने सोमवार को यह जानकारी दी। राजस्थान में चल रहे राजनीतिक संकट के बीच अशोक गहलोत के नेतृत्व वाले मंत्रिमंडल ने विधानसभा सत्र 31 जुलाई से आहूत करने के लिये राज्यपाल को शनिवार देर रात एक संशोधित प्रस्ताव भेजा था।

Have something to say? Post your comment
 
More Politics News
न्यायालय ने अवमानना कानून के प्रावधान के खिलाफ शौरी, एन राम और भूषण को याचिका वापस लेने की अनुमति दी पंजाब सरकार के कर्मचारी चार दिवसीय हड़ताल पर विधायकों को विधानसभा में भी एकजुटता दिखानी है - गहलोत आंध्र प्रदेश में कोविड देखभाल केंद्र में आग लगने से सात मरीजों की मौत डीजीसीए ने सुरक्षा संबंधी त्रुटियों को लेकर जुलाई 2019 में दिया था कोझिकोड हवाईअड्डे को नोटिस सीवीसी ने भ्रष्ट सरकारी अधिकारियों को सजा देने की सलाह पर फिर से विचार करने की समयावधि घटाई शीना बोरा हत्या मामला : अदालत ने इंद्राणी मुखर्जी की जमानत याचिका खारिज की जम्मू-कश्मीर और लद्दाख में बदलाव का दौर जारी है - जयशंकर यूपीएससी ने सिविल सेवा परीक्षा 2019 का परिणाम किया घोषित, प्रदीप सिंह ने शीर्ष स्थान हासिल किया दिल्ली में कोविड-19 के 805 नये मामले सामने आये, मृतक संख्या बढ़कर 4021 हुई