Follow us on
Friday, August 14, 2020
Himachal

राज्यपाल ने हेपेटाइटिस के प्रति जागरूकता फैलाने पर दिया बल

July 29, 2020 10:37 AM

राज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय ने आज विश्व हेपेटाइटिस दिवस के अवसर पर इस बीमारी के प्रति जागरूकता फैलाने की आवश्यकता पर बल दिया। उन्होंने कहा कि हर साल यह दिवस  वायरल हेपेटाइटिस के बारे में जागरूकता बढ़ाने के लिए मनाया जाता है। उन्होंने कहा कि इसके कारण लीवर की सूजन लीवर कैंसर का कारण बन सकती है।

उन्होंने विश्व हेपेटाइटिस दिवस पर प्रदेश के लोगों से राज्य के हेपेटाइटस मुक्त के लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए जागरूकता पैदा करने का संकल्प लेने का आग्रह किया। श्री दत्तात्रेय ने विश्व स्वास्थ्य संगठन की रिपोर्ट का हवाला देते हुए कहा कि हेपेटाइटिस बी के साथ रहने वाले दस प्रतिशत और हेपेटाइटिस सी के साथ रहने वाले 19 प्रतिशत लोग ही अपने हेपेटाइटिस की स्थिति के बारे में जानते हैं और लाखों लोग इस बिमारी से अनजान हैं, जिसकी रोकथाम व उपचार हो सकता है।

उन्होंने कहा कि रोकथाम के अभाव में हर साल हेपेटाइटिस के हजारों नए रोगी सामने आ रहे है। उन्होंने कहा कि वायरल हेपेटाइटिस के बारे में जागरूक होना ही इसकी रोकथाम का पहला कदम है। उन्होंने कहा कि हेपेटाइटिस बी और सी वायरस के संक्रमण दुनिया भर में लीवर की बीमारियों का प्रमुख कारण हैं और हमें इसे रोकने के उपाय करने चाहिए।

उन्होंने कहा कि नवजात शिशुओं में संक्रमण को रोकने के दृष्टिगत राज्य में जन्म के समय शिशुओं को हेपेटाइटिस बी के टीकाकरण द्वारा किए जा रहे हैं, माता से शिशु को हेपेटाइटिस बी, एचआईवी और सिफलिस के लिए नियमित परीक्षण किया जाता है ताकि मां से बच्चे को संक्रमण को रोका जा सके,  यदि आवश्यकता हो तो जो लोग इन्जेक्शन से नशा लेते है इसके अलावा सभी लोगों तक परीक्षण तथा उपचार उपलब्ध करवाना है।

Have something to say? Post your comment
 
More Himachal News
अर्थव्यवस्था बहाली के लिए सरकार कर रही हर संभव प्रयास - मुख्यमंत्री हिमाचल ने ई-संजीवनी पोर्टल पर परामर्श पंजीकृत करने में तीसरा स्थान प्राप्त किया मुख्यमंत्री ने उप-तहसील सुलह का लोकार्पण किया कोविड महामारी में भी विकास कार्य प्रभावित न हो यह सुनिश्चित कर रही है सरकार - मुख्यमंत्री कुल्लू जिले का शरण गांव देश के 10 हथकरघा गांवों में शामिल मुख्यमंत्री ने विधायकों को विकासात्मक परियोजनाओं की निगरानी करने के निर्देश दिए मुख्यमंत्री ने किन्नौर जिला में 62.17 करोड़ रुपये की विकासात्मक परियोजनाएं समर्पित की राज्यपाल ने किसानों से न्यूनतम उत्पादन लागत के लिए प्राकृतिक खेती अपनाने पर बल दिया हिमाचल को शीघ्र बेसहारा पशु मुक्त राज्य बनाने के प्रयास - जय राम ठाकुर सेल्फी लेने के चक्कर में डैम में डूबा युवक, बचाने की कोशिश में दोस्त की भी मौत