Follow us on
Thursday, May 24, 2018
Feature

इन गलतियों से हो सकता है आपका Facebook अकाउंट हैक

October 07, 2017 06:43 AM

Facebook दुनिया की सबसे बड़ी सोशल नेटवर्किंग साइट फेसबुक अपने यूजर्स की प्राइवेसी को गंभीरता से लेते हुए हर रोज नए प्राइवेसी टूल्स उपलब्ध करा रही है.इन सबके बावजूद हैकर्स बड़ी आसानी से यूजर्स के Facebook अकाउंट को हैक कर लेता है और इसकी जानकारी यूजर्स को नहीं होती है. यहां जानिए कैसे आपका Facebook अकाउंट हैक हो सकता है और कैसे आप अपने अकाउंट को ज्यादा सिक्योर रख सकते हैं.

किसी Facebook अकाउंट को हैक करने के लिए फिशिंग अटैक एक आसान तरीका है.इसके लिए हैकर्स एक फेक लॉगिन पेश को क्रिएट करता है जो कि बिल्कुल रियल फेसबुक पेज की तरह ही दिखता है.इसके बाद, हैकर्स दूसरे यूजर को इसे लॉग इन करने के लिए कहता है.यूजर द्वारा एक बार फेक पेज को लॉगइन करने के बाद उसके ईमेल एड्रेस और पासवर्ड को टेक्स्ट फाइल में स्टोर कर लिया जाता है.अब हैकर टेक्स्ट फाइल को डाउनलोड करने करने के बाद यूजर के फेसबुक पेज को हैक कर लेता है.

ऐसे बचें:

• किसी दूसरे डिवाइस से फेसबुक अकाउंट को लॉगइन न करें.

• हमेशा क्रोम बाउजर का इस्तेमाल करें.

• ऐसे ईमेल्स को नजरअदांज करें जो आपको फेसबुक अकाउंट को लॉगइन करने को कहे.

हम सभी अपनी सुविधा के लिए कंप्यूटर के ब्राउजर में अकाउंट के पासवर्ड को सेव रखते हैं.ऐसे में यह हमारे लिए खतरा हो सकता है.इससे हैकर्स बड़ी आसानी से अपने पासवर्ड को आपके कंप्यूटर से निकाल कर आपके अकाउंट को हैक कर सकता है.

ऐसे बचें:

• कभी भी अपने ब्राउजर पर लॉगिन क्रेडेंशियल्स को सेव न करें.

• हमेशा अपने कंप्यूटर पर स्ट्रॉन्ग पासवर्ड का उपयोग करें.

यदि आप फेसबुक का इस्तेमाल करने के लिए HTTP (नॉन-सिक्योर) कनेक्शन का प्रयोग करते हैं तो यह आपके लिए खतरनाक हो सकता है.सेशन हाइजैकिंग के जरिए हैकर यूजर के ब्राउजर कुकी को चुराता है जिसका इस्तेमाल वेबसाइट पर यूजर को प्रमाणित करने के लिए किया जाता है.साथ ही, यूजर के खाते तक पहुंचने के लिए इसका इस्तेमाल करता है.

अधिकांश लोग अपने मोबाइल फोन के माध्यम से फेसबुक का उपयोग करते हैं.अगर हैकर यूजर के मोबाइल फोन को हैक कर लें तो उसे फेसबुक समेत दूसरे अकाउंट की जानकारी भी मिल जाएगी.मसलन, हैकर आसानी से यूजर के फेसबुक अकाउंट का एक्सेस प्राप्त कर सकता है.ऑनलाइन ऐसे कई सॉफ्टवेयर या एप्स है जो आपके स्मार्टफोन पर नजर रखते हैं.सबसे लोकप्रिय मोबाइल फोन स्पाइंग सॉफ्टवेयर Mobile Spy और Spy Phone Gold हैं.

ऐसे बचें:

•अपने स्मार्टफोन में एक अच्छे एंटीवायरस प्रोग्राम और मोबाइल सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल करें.

•किसी भी अनजान सोर्स से एप्स को इंस्टॉल न करें.

Have something to say? Post your comment